women military police recruitment

मंडी में फसल खरीद के लिए किसानों के पास मैसेज जाएगा और उसके अनुसार ही खरीद होगी। इस बार फसल खरीद की पेमेंट सीधी किसानों के खाते में जाएगी। इतना ही नहीं, समय पर भुगतान नहीं होने पर किसानों को नौ फीसद ब्याज भी दिया जाएगा। इसके साथ ही मंडियों में व्यवस्था बनाए रखने के लिए 48 घंटे के भीतर उठान न होने पर ट्रांसपोर्टर के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।