शुक्रचर्य के गुरु कन थे

गुरुवार को कलेक्ट्रेट सभागार में माह सितंबर पोषण माह के रूप में पूरे मनोयोग के साथ मनाये जाने के निर्देश दिए। आयोजित किए जाने वाले प्रत्येक दिन के फोटोग्राफ्स तैयार कर प्रस्तुत करने के निर्देश सीडीपीओ, आंगनवाड़ी एवं सहायिका को दिए गए। उन्होंने कहा कि सुपोषण के संबंध में जिले के कार्यों की सराहना शासन स्तर पर हुई है। अब सुपोषण माह में यह कार्य संतोष जनक न पाया गया तो जिम्मेदार कर्मचारी के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी। प्रभारी जिला कार्यक्रम अधिकारी संजीव बघेल ने सभी को माह भर चलने वाले कार्यक्रमों की जानकारी दी। कहा कि प्रत्येक आंगनबाड़ी में प्राप्त निर्देशों के अनुसार कार्यक्रम अवश्य आयोजित कराएं। प्रत्येक कार्यक्रम का फोटोग्राफ अवश्य बनवाएं। कार्यक्रम के दौरान अच्छा कार्य करने वाली आंगनवाड़ी एवं सहायिका को अभ्यूदय सेवा संस्थान की ममता पांडेय द्वारा 28 लोगों को पोषण किट का वितरण किया गया। मुख्य विकास अधिकारी हरिश्चंद्र वर्मा, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. संतोष कुमार, उप मुख्य चिकित्साधिकारी वीपीवर्मा, डॉ. याकूब आदि अधिकारी उपस्थित रहे।