प्रर्थन पत्र कैसे लख जत है

बरामद गांजे की बाजार में कीमत साढ़े तीन करोड़ रुपए होने का अनुमान है. अवैध कारोबार के मामले में पुलिस ने अबतक आकाश यादव और दिनेश सरोज नाम के दो लोगों को गिरफ्तार किया है. ये दोनों ट्रक में गांजे के साथ मौजूद थे. यादव के खिलाफ अलग-अलग पुलिस स्टेशन में तीन मामले दर्ज हैं. भराम्बे ने बताया कि शुरुआती जांच में पता चला कि ये आरोपी हर महीने महाराष्ट्र में 6 टन गांजा सप्लाई करते थे और 4 टन गांजा सिर्फ मुंबई में बेची जाती थी. पुलिस को इस मामले में अब संदीप सातपुते और लक्ष्मी प्रधान नाम के शख्स की तलाश है. सातपुते भिवंडी इलाके में एक गोडाउन का मालिक है और ठाणे के लुइस वाड़ी इलाके में रहता है. आरोप है कि 5 साल से सातपुते गांजा की सप्लाई करता आ रहा है.