पर क मतलब

मेले में शामिल हो रहे सभी 32 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को पवेलियन की बजाए हंगेर्स में जगह दी गई है. इसके चलते पवेलियन के मुकाबले हंगेर्स में जगह कम दी गई है, लेकिन आईटीपीओ का दावा है कि डिस्प्ले के हिसाब से हंगेर्स में राज्यों के लिए पर्याप्त जगह है.