mp कैबनेट क बैठक के नर्णय आज

कोरोना को लेकर विगत 18 माह से बंद नेपाल द्वारा 12 अगस्त को मुख्य सीमा होकर पैदल यात्रियों की अनुमति प्रदान करते ही लोगों के लिए रोजगार के द्वार भी खोल दिए। जिस कारण नेपाल के मील व अन्य संस्थानों में काम करने वाले भारतीय के चेहरे पर खुशी हैं। लोग बस एवं भाड़े के वाहनों से जोगबनी के रास्ते नेपाल जा रहे है ऐसे लोगों में बंगाल के मजदूरों की संख्या अधिक हैं। इस संबंध में मजदूर तपन बर्मन एवं रवि बर्मन ने बताया कि हमलोग शुरू से परिवार के साथ नेपाल में रह कर ईट भ_ा एवं स्टील फैक्टरी में काम करते हैं, लेकिन कोरोना संक्रमण के कारण फैक्ट्री बंद होने के कारण बेरोजगार हो अपने घर चले गए थे। पुन: आवागमन बहाल किये जाने के बाद मालिक के बुलावे पर काम करने नेपाल जा रहे हैं।