मंगलवर व्रत कब शुरू करें

मधेपुरा। कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए लगाए गए लॉकडाउन को पालन करने के लिए प्रशासन लगातार प्रयासरत है, परंतु सरकार के द्वारा लगाए गए लॉकडाउन के बीच अफवाहों पर नकेल कसने में जिला प्रशासन नाकाम साबित हो रही है। लगातार जिले में तरह-तरह की अफवाहों से लोग गलतफहमी के शिकार हो रहे हैं। वहीं बिहारीगंज में कोरोना पॉजिटिव मिलने जाने के बाद भी दर्जनों भ्रामक खबरों के जरिए जिलेभर में दशहत फैलाने की कोशिश की गई। इसके अलावा मुरलीगंज में आक के पेड़ से निकलने वाले पानी से कोरोना के इलाज होने की झूठी खबर के बाद वहां लोगों की भीड़ जमा हो गई थी। इस दौरान लोगों ने शारीरिक दूरी का बिल्कुल भी ध्यान नहीं रखा। बताते चलें कि अब तक लॉकडाडन के दौरान सोशल मीडिया पर भ्रामक खबरें एवं आपत्तिजनक पोस्ट करने मामले में छह लोगों पर प्राथमिकी दर्ज कर पूछताछ की गई है।