लड़कयं के बबे कैसे हते हैं

सिस्टर अनी समय-समय पर लोगों के बीच जाकर उनको बच्चों के साथ महिलाओं के अधिकारों के बारे में भी जागरूक कर रही हैं, जिसके सकारात्मक परिणाम भी नजर आ रहे हैं। पूर्व में महीने में सौ से अधिक बाल मजदूरों को विभिन्न जगहों से मुक्त कराया था, लेकिन बीते दिनों से इस बाल मजदूरी की शिकायतों में काफी कमी नजर आ रही है, जिससे सिस्टर अनी को ओर अधिक बल मिल रहा है।