kotak mahindra bank recruitment 2017 nagpur

पचपेड़वा के भगवानपुर शिवपुर गांव में राधेश्याम विश्वकर्मा बेटी वंदना की शादी की तैयारियों में जुटे थे। जश्न के माहौल में पूरा गांव बारातियों की राह देख रहा था। रात करीब नौ बजे फोन की घंटी बजने पर राधेश्याम के कानों में गूंजी आवास पर जश्न का माहौल पल भर में मातम में बदल गया। सड़क दुर्घटना में दूल्हे के बहनोई, भांजी, भाई व भतीजे की मौत की खबर से हर कोई स्तब्ध रह गया। घर में मेहंदी लगाकर दुल्हन बनी बैठी वंदना यह खबर सुनते ही बेहोश हो गई। उसकी आंखों से आंसू रुक नहीं रहे हैं। पूरा परिवार उसे दिलासा देने में जुटा है। शादी की सारी तैयारियां धरी रह गईं। सारा भोजन धरा रह गया। इस घटना से गांव में हर कोई गमगीन है। शनिवार सुबह भी राधेश्याम के आवास पर लोगों की भीड़ लगी रही।