इनवटेशन कर्ड मेकर

आनंद गिरि ने सीबीआई अफसरों को आशीष गिरी की कथित खुदकुशी को हत्या बताते हुए इस मामले को भी अपनी जांच के दायरे में लाने की अपील की है. आनंद गिरि के वकील भी इस मामले को लेकर कोर्ट में अर्जी दाखिल करने की तैयारी में हैं. रसूखदार लोगों के दबाव के चलते प्रयागराज पुलिस ने इस मामले में FIR तक दर्ज नहीं की थी.