hal recruitment 77 assistant and operator

ज्ञानेंद्र ने मामले में अपना वकील बदल लिया है और  अधिवक्ता संतोष कुमार पांडेय के माध्यम से जिला अदालत में फौजदारी निगरानी दाखिल की है. उन्होंने पिछले आदेश को निरस्त कर सुनवाई की मांग की. इसके बाद सेशन कोर्ट के जज राजेश नारायण मणि त्रिपाठी ने पूर्व मंत्री आजम खान और सुलतानपुर के जिलाधिकारी को नोटिस भेजने के आदेश दिए हैं. मामले में अगली सुनवाई 14 जून को होगी.