ग्रमण वकस क अर्थ

चंदौली, जागरण संवाददाता। जिले की यूरिया से बिहार में किसानों के खेत लहलहा रहे हैं। यहां के किसानों के हिस्से की यूरिया तस्करी कर बिहार ले जाई जा रही है। अधिकारियों की छापेमारी में इसकी पुष्टि हो चुकी है। यहां 32800 टन यूरिया की खपत होती है, अब तक 26500 टन यूरिया वितरित की जा चुकी है। इसके बावजूद किल्लत दूर नहीं हो रही है। इसको लेकर कृषि विभाग अलर्ट हो गया है। प्रशासनिक अधिकारियों से खाद की तस्करी पर रोक लगाने की मांग की है।