dte assam recruitment

बिरनी प्रखंड अंतर्गत प्रतापपुर गांव में एक ही घर के बच्चों समेत आठ लोग पॉल्ट्री फॉर्म का मुर्गा खाने से बीमार हो गए। गुरुवार देर शाम को सभी पीड़ितों को इलाज के लिए गिरिडीह सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मामला फूड प्वाइजनिग का है या डायरिया का इसकी अभी जांच की जा रही है। इस संबंध में मथुरा यादव ने बताया कि मंगलवार को घर के सभी सदस्यों ने मुर्गा खाया था। फिर बुधवार दोपहर को सभी ने दाल, भात सब्जी खाया। बुधवार देर शाम को एक बच्चे को उल्टी होने लगी तो गांव के ही एक कथित चिकित्सक से दवा लाकर बच्चे को खिला दिया। थोड़ी देर बाद पत्नी शकुनी देवी, 18 वर्षीय पुत्री कालिका कुमारी, 14 वर्षीय पुत्री ममता कुमारी, 7 वर्षीय पुत्र गोलू यादव, जुड़वा बच्चे 12 वर्षीय प्रियंका कुमारी, 12 वर्षीय धीरज कुमार, मायके में रह रही देवंती देवी व उसका तीन वर्षीय बेटा अंकित कुमार को उल्टी होने लगी। इसके बाद सभी को इलाज के लिए बिरनी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया। वहां स्थिति में सुधार नहीं होने के बाद सभी को गिरिडीह सदर अस्पताल रेफर कर दिया गया। इधर पीड़ितों का इलाज कर रहे सदर अस्पताल के चिकित्सक डॉ. अशोक कुमार ने बताया कि मरीजों को भर्ती कर इलाज शुरू कर दिया गया है। सभी को उल्टी की शिकायत है। यह फूड प्वाइजनिग का मामला है या कुछ और यह जांच के बाद ही बताया जा सकता है।