civil recruitment 2016

जासं, धनबादः पर्युषण पर्व जैन धर्मावलंबियों का सबसे बड़ा त्योहार है। जिसे दशलक्षण धर्म के नाम से भी जाना जाता है। यह संयम और आत्मशुद्धि का संदेश देता है। पर इस साल दिगांबर जैन समाज के लोग धैया जैन मंदिर में पर्युषण पर्व बुधवार को विधिवत संपन्न किया गया। भगवान का अभिषेक किया गया। अभिषेक के जल से प्रक्षालित किया हुआ लांग का माला विजय जैन व विनीत जैन को समाज के अध्यक्ष विमल गोधा व  विजय गोधा ने पहना का सम्मानित किया गया। बताया गया कि कोरोना संक्रमण के कारण इस बार भी सादगी के साथ मनाया गया। जैन धर्मावलंबियों के कई लोग घर पर ही तप, बल और क्षमा का का महापर्व पर्युषण मनाएंं।