central intelligence bureau india recruitment

छेत्री ने यहां एक कार्यक्रम में छोटी उम्र के खिलाडिय़ों से कहा, 'अच्छा फुटबॉल खिलाड़ी बनने के लिए सबसे पहले उन्हें एक अच्छा और अनुशासित इंसान बन कर दिखाना होगा। आप अपने बचपन को हंस खेल कर जीएं, शरारत भी करें, लेकिन ऐसा कुछ ना करें जिससे माता-पिता की भावनाओं और उम्मीदों को ठेस पहुंचे। आपके माता-पिता आपको चैंपियन फुटबॉलर बनाना चाहते हैं जिसे पूरा करने के लिए सही समय पर सोना, सही खाना और नियमित अभ्यास जरूरी है।