capf 2018 recruitment

सुनवाई के दौरान प्रार्थी के अधिवक्ता इंद्रजीत सिन्हा ने अदालत को बताया कि इस मामले में उनके खिलाफ कोई प्रत्यक्ष साक्ष्य नहीं है। रूपा तिर्की के माता-पिता के बयान पर उनके खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप लगाया गया है। इस मामले में पुलिस की ओर से चार्जशीट दाखिल की गई है। जबकि, इस मामले की जांच सीबीआइ ने टेकओवर कर लिया। लेकिन उनकी ओर से अभी तक चार्जशीट दाखिल नहीं किया गया है। इस पर सीबीआइ की ओर से कहा गया कि इस मामले में हत्या की धारा 302 जोड़े जाने पर विचार किया जा रहा है और इसी एंगल से सीबीआइ जांच भी कर रही है। इसके बाद अदालत ने शिव कुमार कनौजिया को जमानत प्रदान कर दी।