bank recruitment 2019

सुनीता देवी का कहना था कि पूर्व उपप्रधान रत्न चंद ठाकुर ने अपनी बहू को गलत ढंग से बीपीएल सूची में शामिल किया था। इसके सारे दस्तावेज पंचायत के पास हैं। हकीकत में उनकी बहू विधवा नहीं है। इसी आधार पर बीडीओ सरकाघाट को लिखित में शिकायत सौंप दी है और मामले की जांच की मांग की गई है। प्रधान ने बताया कि जब इस संबंध में ग्रामसभा की बैठक में पूर्व उपप्रधान से पूछा गया तो वह भड़क गए और बदतमीजी करने लगे। उन्होंने मामले में निष्पक्ष जांच की मांग की है। पंचायत प्रधान बेबुनियाद आरोप लगाकर मेरी छवि को खराब करने की कोशिश कर रही हैं। मैं इस मामले में कानूनी कार्रवाई करूंगा।