army recruitment online application 2018

क्राइम नंबर 59 और 50 में 420 , 467, 471, आईपीसी व 4, 5, 10, व 66 डी के अंतर्गत रिमांड पर लिया था था और एफआईआर की थी. कोतवाली में 420 , 4/5/10 परीक्षा अधिनियम व 66 बी में तीनों पत्रकारों के खिलाफ मामला दर्ज किया था. 23 तारीख को लोअर कोर्ट ने दिग्विजय सिंह और मनोज गुप्ता की जमानत मामले में कहा कि 467, 468, 471 का अपराध नहीं बनता है. लिहाजा दोनों पत्रकारों की जमानत मंजूर कर ली गई. अजीत ओझा को क्राइम नंबर 59 मामले में जिला जज की अदालत से जमानत मिली.