आरटई प्रवेश 2018-19 cg

मेडिकल कॉलेज व अस्पताल के सीनियर रेसीडेंट डॉक्टरों ने बताया कि सरकार के दीपावली के पूर्व वेतन भुगतान के आदेश के बाद भी योगदान किए हुए तीन माह से अधिक समय बीत जाने पर उन्हें अब तक वेतन भुगतान नहीं किया गया है। साथ ही कहा कि उन लोगों ने पीजी की पढ़ाई के बाद एक वर्ष के बॉन्ड पर लगभग साठ हजार रूपये मासिक पर मेडिकल कॉलेज अस्पताल में अपनी सेवाएं देना प्रारंभ किया। जबकि मासिक मानदेय की वृद्धि को लेकर स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव के साथ हुई वार्ता में मानदेय को बढ़ाकर बिहार राज्य की तर्ज पर 75 हजार रूपये मासिक करने पर सहमति बनी थी। उसे अब तक पूरा नहीं किया गया है। वहीं अस्पताल में डाक्टरों की कमी के कारण ओवरटाइम कार्य करने का दबाव की भी बात की। साथ ही पारामेडिकल कर्मियों व स्टाफ नर्स की कमी के कारण भी कार्य संपादित करने में परेशानी की बात कही।