कंग्रेस क प्रदर्शन

पीलीभीत,जेएनएन: वृक्ष हमारे जीवन की धरोहर है। धरती पर मानव जाति के अलावा सभी जीव जंतुओं के लिए सबसे बड़ा सुरक्षा कवच हैं। प्रकृति ने वृक्ष अनमोल उपहार के रूप में दिए हैं। कोरोना काल में जब लोगों ने प्राणवायु का संकट महसूस किया तो नीम, बरगद, पीपल के वृक्ष इस संकट को दूर करने में सबसे बड़े मददगार साबित हुए। कोविड-19 महामारी से देश ही नहीं पूरा विश्व पिछले वर्ष से संकट से जूझ रहा है। कोरोना वायरस की दूसरी लहर आने पर बड़ी संख्या में लोग संक्रमण के शिकार हुए। अनेक लोग आक्सीजन की कमी से मौत के मुंह में समा गए। जनमानस को इस महामारी ने झकझोर कर रख दिया। ऐसे में लोगों को लगा कि मुफ्त में आक्सीजन देने वाले पेड़ जीवन के लिए कितने आवश्यक हैं। इस बार तमाम लोगों ने वन महोत्सव के दौरान प्राण वायु के साथ ही फल एवं छाया देने वाले वृक्षों के पौधे रोपित करने का निश्चय किया है। सहकारी चीनी मिल परिसर में तो जागरण के अभियान के प्रभावित होकर आम, नीम, बरगद, पाकड़ के फलदार व छायादार वृक्षों के पौधे लगाने का कार्य शुरू भी कर दिया गया है।