खून नकलने वल सेक्स वडय

इसके साथ ही उन्होंने कहा, “जो बड़े नेता वर्षों से एआईसीसी पर कब्जा जमाकर बैठे हैं उनकी ओर से सार्वजनिक तौर पर पार्टी के कामकाज पर की गई टिप्पणियों से पार्टी का और ज्यादा नुकसान हो रहा है. उनकी जिद है कि पार्टी में चुनाव होना चाहिए. मेरा मानना है कि चुनाव कराने का कोई मतलब नहीं है. क्या बीजेपी में कभी चुनाव होते हुए सुना है. चुनाव के बहाने पार्टी के शीर्ष नेतृत्व पर जो हमले हो रहे हैं वो निन्दनीय हैं और मैं उनका विरोध करता हूं.”