बरशे रुपये

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जन कल्याणकारी योजनाओं को गिनाते हुए अपना संबोधन मोदी हैं तो मुमकिन है से शुरू किया। उन्होंने कहा कि हमारी नीति किसी जाति या मजहब विशेष के लिए नहीं है, हमारी नीति गांव के किसानों, गरीबों और सभी जरूरतमंदों के लिए हैं। इन सभी के चेहरों पर खुशी लाने के लिए हैं। कानपुर की पहचान औद्योगिक क्षेत्र के रूप में रही है। पिछली सरकारों की उपेक्षा से कानपुर उद्योगविहीन हो गया लेकिन मोदी जी ने योजनाएं देकर कानपुर ही नहीं उप्र के विकास को बढ़ावा दिया है।