rites recruitment through gate 2019 notification

उत्तर भारत के प्रसिद्ध तीर्थस्थल चितपूर्णी में समय के साथ श्रद्धालुओं की संख्या में वृद्धि हुई है। पिछले 10 साल में श्रद्धालुओं की संख्या और चढ़ावे में करीब 25 फीसद बढ़ोतरी दर्ज हुई है। बावजूद इसके कहीं न कहीं मां के भक्तों को यहां सुविधाओं की कमी खलती रही है। वर्ष 1987 में मंदिर न्यास के अधिग्रहण के बाद मंदिर न्यास पर यह आरोप लगते रहे हैं कि उस हिसाब से धार्मिक नगरी का विकास नहीं हुआ, जैसी अपेक्षा थी। न ही उन योजनाओं को आकार मिल पा रहा है, जिसके लिए न्यास का यथार्थ में गठन हुआ था। न्यास से जुड़े मुद्दों को लेकर दैनिक जागरण ने अभी हाल ही में पदभार संभालने वाले मंदिर अधिकारी जीवन कुमार से बात की। चिंतपूर्णी में आने वाले श्रद्धालु घंटों लाइनों में लगते हैं और कई बार दर्शन के लिए लंबा इंतजार करना पड़ता है?