rbi recruitment 2017 610 post

श्रद्धालुओं को मां के दर्शन पर्ची सिस्टम से ही होंगे। मां के मंदिर में नारियल चढ़ाने पर रोक रहेगी और नारियल मंदिर के प्रवेश द्वार से पहले ही भक्तों से ले लिए जाएंगे। प्रशासन ने यह निर्णय भी सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए लिया है। नवरात्र में 400 से ज्यादा सुरक्षा कर्मी मेला क्षेत्र में तैनात रहेंगे। श्रद्धालुओं को स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध करवाने के लिए करीब डेढ़ लाख रुपये की दवा न्यास ने स्वास्थ्य विभाग को खरीद कर दी हैं। इनमें 75 हजार की दवा एलोपैथी और इतनी ही राशि की दवा आयुर्वेदिक हैं। वहीं, मेले में व्यवस्था को बनाए रखने के लिए धार्मिक संस्थाओं के प्रबंधकों को भी मेला प्रशासन ने सख्त निर्देश दिए हैं। खुले में लंगर लगाने वाली धार्मिक संस्थाओं के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। वहीं, प्लास्टिक का प्रयोग व मालवाहकों में सफर न करने का आग्रह भी मंदिर आयुक्त द्वारा श्रद्धालुओं से किया गया है। मेले के दौरान धारा 144 लागू रहेगी, जिसके तहत मेला क्षेत्र में आग्नेय शस्त्र लेकर चलने पर पाबंदी के अलावा ढोल-नगाड़े व लाउडस्पीकर बजाने पर भी प्रतिबंध रहेगा। मेला में एसडीएम, अम्ब एस. तारूल रबिश को मेला अधिकारी के पद पर तैनात किया गया है, जबकि अंब के डीएसपी मनोज जम्वाल पुलिस मेला अधिकारी होंगे।