model cooperative bank ltd recruitment

संवाद सहयोगी, चिंतपूर्णी : धार्मिक स्थल चितपूर्णी में सावन अष्टमी मेला पहली अगस्त से शुरू हो रहा है। लेकिन भरवाई-चितपूर्णी समनोली बाईपास, तलवाड़ा बाईपास तथा शीतला मंदिर रोड की हालत अब भी नाजुक बनी हुई है। स्थानीय निवासी विक्रम शर्मा ने कहा कि समय रहते सड़कों की हालत को सुधारने के लिए विभाग ने उचित कार्रवाई नहीं की। जिस कारण बरसात के मौसम में लीपापोती से काम चलाया जा रहा है। कई स्थानों पर इतने बड़े-बड़े गड्ढे हैं कि मेले की तैयारियों की पोल खुल रही है। प्रत्येक वर्ष मेलों के कुछ समय पहले ही तैयारियां शुरू की जाती हैं जबकि वर्षभर चिंतपूर्णी में लाखों श्रद्धालु माता के दर्शनों के लिए पहुंचते हैं। चितपूर्णी में कई मरम्मत कार्य लंबित पड़े हैं, जिन्हें समय रहते मंदिर प्रशासन करवाने में नाकाम रहता है। मंदिर की पहली पौढ़ी पर पानी की पाइपों का जाल लगा हुआ है जो श्रद्धालुओं के लिए मुसीबत बना हुआ है। कई बार श्रद्धालुओं के पैर पाइपों में फंस चुके हैं। इस बारे में एसडीओ दिनेश जसवाल ने बताया कि सड़कों की मरम्मत का कार्य चल रहा है।