बच्चं क सुबह क नश्त

सुभाषनगर की रहने वाली युवती ने बताया कि उसने अंतरजातीय युवक के साथ आर्य समाज मंदिर में प्रेम-विवाह किया है। वह बालिग है। बावजूद स्वजन इस बात का विरोध कर रहे हैं। सुरक्षा के लिए हाईकोर्ट में अर्जी लगाई। युवती के मुताबिक, इस पर कोर्ट ने सुरक्षा मुहैया कराने के आदेश दिये। इसी मामले में बुधवार को कोर्ट में बयान दर्ज कराने जा रही थी तभी रास्ते में स्वजनों ने पिटाई शुरू कर दी। सास को जातिसूचक शब्द कहे और कार में खींचकर ले जाने के लिए अपहरण का प्रयास किया। शोर मचाने पर आस-पास के अधिवक्ता इकट्ठा हो गए। आरोप है कि इस पर स्वजन पति व ससुरालियों की हत्या की धमकी देकर भाग खड़े हुए। युवती ने अनहोनी की आशंका जताई है। इंस्पेक्टर कोतवाली हिमांशु निगम ने बताया कि मामले में रिपोर्ट दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है।