सूर्य ग्रहण यग

बड़ी बात यह है कि एक फरवरी को देश में कुल 8635 मामले दर्ज हुए थे. इसके बाद 16 फरवरी तक मामले 12 हजार के आस पास हुए. लेकिन 17 फरवरी के बाद नए मामलों में तेजी दर्ज होने लगी और मामले 12 हजार के पार जाने लगे. 28 फरवरी तक भी देश में हर दिन 15 हजार के आसपास मामले दर्ज हो रहे थे. लेकिन मार्च में रिकॉर्ड टूटने लगा.