श्रम यग पेंशन

सब इंस्पेक्टर सुषमा ठाकुर का कहना है कि पूरा दिन मामले हल करने में ही गुजर जाता है। थाने में जो भी शिकायत आती हैं वह खुद मामले की जांच करती हैं और उसके बाद कार्रवाई भी। सुबह से लेकर शाम तक मामलों को हल करने में गुजर जाता है। यही प्रयास रहता है कि हर पीड़िता को जल्द न्याय मिल सके।