रन पद्मन फल्म

एसएसपी का कहना है कि मामले की जांच और इसकी गहराई तक जाने के लिए विशेष टीम का गठन किया गया है। जांच के दौरान काफी जानकारी सामने आने की उम्मीद है। मामले में कुछ और गिरफ्तारी संभव है। उल्लेखनीय है कि कुछ दिन पहले राजौरी पुलिस ने आतंकी संगठन हिजबुल के हवाला रैकेट का भंडाफोड़ किया था। पुलिस ने पूर्व आतंकी के साथ तीन ओजीडब्ल्यू को गिरफ्तार किया था। इनमें से एक ओजीडब्ल्यू राजौरी के सीमावर्ती सेक्टर केरी का रहने वाला है। बाकी तीन कश्मीर घाटी के रहने वाले हैं। इस रैकेट के पकड़े जाने के बाद सीमा पार से ड्रग्स व पैसे की तस्करी की बात सामने आ रही है। इसकी गहराई तक जाने के लिए विशेष जांच टीम का गठन किया है।