भई बहन क सेक्स चुदई फल्म

नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। दिल्ली अधीनस्थ सेवा चयन बोर्ड (डीएसएसएसबी) की ओर से प्राथमिक शिक्षक भर्ती परीक्षा में दो बार जातिगत प्रश्न पूछने के मामले में कड़कड़डूमा कोर्ट ने आरोपितों के खिलाफ अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति (अत्याचार निवारण) अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज करने का आदेश दिया है। कोर्ट ने आदेश में कहा है कि प्रश्न पत्र बनाने वाले व्यक्ति ने प्रश्न में अपमानजनक शब्दों का प्रयोग किया है। वह भी एक बार नहीं, लगातार दूसरे वर्ष। प्रथम दृष्टया यह संज्ञेय अपराध है। कोर्ट ने निर्देश दिया है कि इस अधिनियम में सक्षम अधिकारी की ओर से मामले की जांच की जाए। उसकी मासिक रिपोर्ट कोर्ट के समक्ष पेश की जाए।